गंगा दशहरा 9 जून 2022 को मनाया जाएगा। गंगा दशहरा पर जरूर करें ये 10 उपाय, पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि और घर की सुख-समृद्धि की कामना होगी पूरी

Ganga Dusshera 2022: घर में सुख समृद्धि लाने के लिए गंगा दशहरा पर जरूर करें ये 10 उपाय


Ganga Dusshera: घर में सुख समृद्धि लाने के लिए गंगा दशहरा पर जरूर करें ये 10 उपाय


Ganga Dussehra 2022 Importance: हिंदू पंचांग के अनुसार, हर साल ज्येष्ठ महीने के शुक्ल पक्ष की दशमी को गंगा दशहरा का पावन पर्व मनाया जाता है। हिंदू धर्म में गंगा को मां का दर्जा दिया गया है साथ ही गंगाजल को बहुत ही पवित्र और पूजनीय माना जाता है। किसी भी तरह के शुभ कार्य और पूजा अनुष्ठान में गंगाजल का प्रयोग अवश्य किया जाता है। गंगाजल के बिना कोई भी मांगलिक कार्य पूर्ण नहीं होता है।

साथ ही सभी पापों से छुटकारा पाने के लिए गंगा दशहरा के दिन गंगा के पवित्र जल में स्नान करना चाहिए। गंगा भवतारिणी है, इसलिए हिंदू धर्म में गंगा दशहरा का विशेष महत्व माना जाता है। धार्मिक पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इसी दिन धरती पर मां गंगा का अवतरण हुआ था। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, भगीरथ अपने पूर्वजों की आत्मा का उद्धार करने के लिए गंगा को पृथ्वी पर ले आए थे। इसी वजह से गंगा को भागीरथी भी कहा जाता है।

ज्येष्ठ महीने में सूर्यदेव अपने चरम सीमा पर होते हैं। इस समय गर्मी बहुत अधिक पड़ती है। इस गर्मी की वजह से सभी जीव-जन्तुओं को पानी की अत्यधिक आवश्यकता पड़ती है। इसीलिए इस महीने में जल का महत्व बहुत अधिक बढ़ जाता है।

इस साल गंगा दशहरा 9 जून को मनाया जाएगा। शास्त्रों के अनुसार इस दिन किये गये दान-धर्म के कार्य  से पुण्य की  प्राप्ति होती है। यह भी कहते हैं कि अगर किसी व्यक्ति के जीवन में कुछ समस्याएं रही है और वो  उनसे छुटकारा पाना चाहता है तो गंगा दशहरा के दिन कुछ उपाय करने से व्यक्ति को सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। तो आइए जानते हैं गंगा दशहरा का शुभ मुहूर्त, दान-धर्म के कार्य और उपायों के बारे में...


गंगा दशहरा तिथि और शुभ मुहूर्त

गंगा दशहरा - जून 9, 2022 दिन बृहस्पतिवार

दशमी तिथि प्रारम्भ: जून 09, 2022 को 08:21 AM

दशमी तिथि समाप्त: जून 10, 2022 को 07:25 AM

हस्त नक्षत्र प्रारम्भ: जून 09, 2022 को 04:31 AM

हस्त नक्षत्र समाप्त: जून 10, 2022 को 04:26 AM

व्यतीपात योग प्रारम्भ: जून 09, 2022 को 03:27 AM

व्यतीपात योग समाप्त: जून 10, 2022 को 01:50 AM


गंगा दशहरा पर जरूर करें इन चीजों का दान




 गंगा दशहरा पर मीठा पानी या शर्बत से भरा घड़ा दान करना बहुत शुभ माना जाता है।

 इस दिन पंखा, छाता, सूती वस्त्र, गमछा और धोती, जूता, चप्पल, टोपी आदि का दान करना भी पुण्यकारी होता है।

 खरबूजा, तरबूज और अन्य फलों के साथ सत्तू, चीनी या गुड़ का दान इस दिन जरूर करना चाहिए।

 इस के साथ कुछ नकद दक्षिणा भी अवश्य करनी चाहिए।

 मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन किसी प्यासे को पानी पिलाने से कई तपस्या के बराबर फल मिलता है। इस दिन हर प्यासे को पानी जरूर पिलाना चाहिए। यदि संभव हो तो पानी के प्याऊ की व्यवस्था भी करनी चाहिए।

★ बेघर लोगों के लिए छांव की व्यस्था करना विशेष पुण्य देने वाला माना गया है।


गंगा दशहरा के दिन करें ये उपाय-

अगर आप भारी कर्ज से परेशान हैं और आपको इससे मुक्ति नहीं मिल रही है तो आप अपनी लंबाई के बराबर काला धागा लेकर उसे नारियल पर लपेट लें और फिर भगवान को अपनी समस्या के बारे में बताते हुए उसकी समाप्ति के लिए प्रार्थना करें। अब शाम के समय इस नारियल को बहते हुए पानी में प्रवाहित कर दें। इस बात का ध्यान रहे कि प्रवाहित करने के बाद पीछे मुड़कर देखें तथा अपने घर चले आएं। कुछ ही दिनों में आपको अपनी समस्या का समाधान मिल जाएगा।

➤ नौकरी और व्यापार में बाधा को दूर करने के लिए गंगा दशहरा के दिन एक मिटटी का घड़ा लें और उसमें थोड़ा सा गंगाजल डालें। अब उसके बाद आवश्यकता अनुसार उसमें चीनी डाल लें। अब उस घड़े को पानी से भरकर किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दान कर दें। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपकी समस्या धीरे-धीरे दूर हो जायेगी।

➤ गंगा दशहरा के दिन गंगा स्नान करें और स्नान के बाद थोड़ा सा गंगाजल लेकर अपने घर में छिड़क दें। ऐसा करने से आपके घर से सभी नकारात्मक ऊर्जा समाप्त हो जाएगी और आपका घर खुशियों से भर जाएगा।

 कार्य में संतुष्टि के लिए गंगा दशहरा के दिन मिट्टी का एक घड़ा लेकर उसमें ऊपर तक पानी भर लें। अब इस पानी में गंगाजल की कुछ बूंदे डालकर मटके को ढक दें और उस पर कुछ दक्षिणा रख दें। अब इस घड़े को किसी भी शिव मंदिर में दान कर दें। ऐसा करने से आपकी सारी उलझनें धीरे- धीरे दूर हो जाएंगीऔर साथ ही आपको काम में भी संतुष्टि मिलने लगेगी।

गंगा दशहरा पर धन-दौलत पाने के लिए कुछ टोटके किए जा सकते हैं। इनसे आपके जीवन में खुशियां आती हैं और धन की प्राप्ति भी होती है। धन संपत्ति पाने के लिए और अपने दोस्तों से संबंध मजबूत करने के लिए गंगा दशहरा के दिन मां गंगा की पूजा करनी चाहिए। पूजा करते समय 'बृहत्यै ते नमस्तेSस्तु लोकधात्र्यै नमोSस्तु ते. नमस्ते विश्व मित्रायै नन्दिन्यै ते नमो नमः॥' मंत्र का पाठ भी करना चाहिए।

गंगा दशहरा के दिन सबसे पहले शुभ मुहूर्त में गंगा नदी में आस्था की डुबकी अवश्य लगाएं। इससे आपको रोग-दोष और दरिद्रता दूर हो जाएगी।



गंगा दशहरा के दिन अनार का पेड़ लगाने से आर्थिक तंगी दूर होती है और माता लक्ष्मी की खास कृपा प्राप्त होती है। मगर याद रखें कि अनार के पेड़ को भूलकर भी घर के अंदर ना लगाएं।

गंगा दशहरा के दिन पर गंगा स्नान करते हुए ' नमो गंगायै विश्वरूपिण्यै नारायण्यै नमो नमः' मंत्र का जप करें। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, इससे पापों से मुक्ति मिलती है और जीवन में खुशहाली आती है।

श्री सत्यनारायण की कथा सुनना या पढ़ना बेहद शुभ माना जाता है। ऐसे में गंगा दशहरा के दिन इसे सुनने से विशेष लाभ मिलेगा। इसके साथ ही जरूरतमंदों को भोजन खिलाना सामर्थ्य अनुसार दक्षिणा देें। इससे जीवन की समस्याएं दूर होकर घर में सुख-समृद्धि, शांति खुशहाली का वास होता है।

अगर बीमारियों घर का पीछा नहीं छोड़ रही है तो आप इस शुभ दिन पर गंगा नदी पर स्नान करते हुए संसार विष नाशिन्यै, जीवनायै नमोऽस्तु ते, ताप त्रय संहन्त्र्यै, प्राणेश्यै ते नमो नमःमंत्र का करीब 11 बार जप करें। साथ ही गंगा मां से प्रार्थना करें कि वे आपको आपके परिवार को सेहतमंद रखें। आप चाहे तो पानी में गंगा जल मिलाकर घर भी स्नान कर सकते हैं। इससे जल्दी ही बीमारियों से छुटकारा मिलेगा।




गंगा दशहरा की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाये। 

माँ गंगा आप सभी पर अपनी कृपा दृष्टि और आशीर्वाद बनाये रखें।


 




Tags - ganga dussehra, ganga dussehra 2022 date, ganga dussehra 2022 haridwar, ganga dussehra 2022 mein kab hai, ganga dussehra drik panchang, ganga dussehra facts in hindi, ganga dussehra festival of india, ganga dussehra history in hindi, ganga dussehra importance, ganga dussehra ka mahatva, ganga dussehra ka tarika, ganga dussehra kab manaya jata hai, ganga dussehra ke upay,  ganga dussehra ke upay quora, ganga dussehra par kya daan kare, ganga dussehra shubh muhurat, ganga dusshera ke upay aur daan bataiye, ganga dusshera ke upay aur daan in hindi, ganga dusshera ke upay bataiye,ganga dusshera ke upay gharelu,  ganga dusshera ke upay kaise karen, jeth ka ganga dussehra kab hai, why ganga dussehra is celebrated, गंगा दशहरा के उपाय, गंगा दशहरा 














____
 99advice.com provides you with all the articles pertaining to Travel, Astrology, Recipes, Mythology, and many more things. We would like to give you an opportunity to post your content on our website. If you want, contact us for the article posting or guest writing, please approach on our "Contact Us page."
Share To:

Sumegha Bhatnagar

Post A Comment:

0 comments so far,add yours