आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार, रहें सदा माँ के स्वागत को तैयार। इस वर्ष शारदीय नवरात्रि दिनांक 29 सितम्बर 2019 से आरम्भ होकर 7 अक्टूबर 2019 तक मनायी जाएगी। किस शुभ घड़ी में करे पूजा अर्चना? आइये जानते है कलश स्थापना का शुभ मुहर्त

आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार करें शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना

नवरात्रि को सनातन धर्मों के पर्वों में से मुख्य पर्व माना जाता है। भारतवर्ष में हिंदूओं द्वारा इसे अत्यधिक उल्लास और श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। वैसे तो एक वर्ष में चार बार नवरात्री आती हैं, इनमें से दो गुप्त नवरात्री, तीसरी चैत्र नवरात्री और चौथी शारदीय नवरात्री कहलाती है। लेकिन चैत्र और आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक पड़ने वाले नवरात्र काफी लोकप्रिय हैं। आषाढ़ और माघ मास के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली नवरात्री गुप्त नवरात्री कहलाती हैं। हालांकि गुप्त नवरात्री आमतौर पर नहीं मनायी जाती है लेकिन तंत्र साधना करने वालों के लिये गुप्त नवरात्री बहुत ज्यादा महत्व हैं।

नवरात्रि, नवदुर्गे नौ दिनों का उत्सव है। नवरात्र के इस महापर्व में दिव्य स्त्री शक्ति स्वरूप मां दुर्गा के नौ अलग-अलग रूपों क्रमशः शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कूष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धदात्री देवी की पूजा-अर्चना की जाती है। देवी के यह नौ रूप, नवग्रहों के आधिपत्य तथा उनसे जुड़ी बाधाओं को दूर व उन्हें प्रबल करने हेतु भी पूजे जाते हैं। नौ दिनों तक चलने वाला यह पर्व माँ दुर्गा और उनके नौ स्वरूपों को समर्पित है।


आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार करें शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना


शारदीय नवरात्रि को सभी नवरात्र में प्रमुख और महत्वपूर्ण माना जाता है इसलिए इसे महानवरात्रि भी कहा जाता है। यह आश्विन मास में आते हैं और इन नवरात्रों को ‘शारदीय नवरात्र’ कहा जाता है क्योंकि इस समय शरद ऋतु होती है। शारदीय नवरात्रि का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि यह नवरात्रि विजयदशमी के पर्व के ठीक पहले आती हैं।

धार्मिक मान्यता के अनुसार आद्यशक्ति माँ दुर्गा की पूजा-अर्चना प्राचीन काल से ही चली आ रही है। अनेक पौराणिक कथाओं में देवी की आराधना का महत्व बताया गया है, भगवान श्री राम जी ने भी विजय की प्राप्ति के लिए माँ दुर्गा जी की उपासना की थी। शारदीय नवरात्र भक्तों की आस्था और विश्वास का प्रतीक हैं।

इस वर्ष शारदीय नवरात्रि दिनांक 29 सितम्बर 2019 से आरम्भ होकर 7 अक्टूबर 2019 तक मनायी जाएगी। नवरात्र में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-आराधना की जाती है। नवरात्र के व्रत में नौ दिन तक भगवती दुर्गा का पूजन, दुर्गासप्तशती का पाठ तथा एक समय भोजन का व्रत धारण किया जाता है। ये नवरात्रि शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनाए जाते हैं। दुर्गा अष्टमी तथा नवमी को भगवती दुर्गा देवी की पूर्ण आहुति दी जाती है। नौ दिन उपवास के बाद नवमी का पूजन किया जाता है जिसमें कन्या पूजन का भी विशेष महत्व है। कुछ लोग अष्टमी पूजन के बाद भी कन्या पूजन करते हैं। दसवें दिन दशहरा होता है जो धूमधाम से मनाया जाता है।


आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार करें शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना


माता दुर्गा हिन्दू धर्म में आद्यशक्ति के रूप में सुप्रतिष्ठित है तथा माता शीघ्र फल प्रदान करनेवाली देवी के रूप में लोक में प्रसिद्ध है। यदि कोई व्यक्ति नौ दिनों तक पूजा करने में समर्थ नहीं है और वह माता के नौ दिनों के व्रत का फल लेना चाहता है तो उसे प्रथम नवरात्र तथा अष्टमी का व्रत करना चाहिए माता उसे मनोवांछित फल प्रदान करती है।

नवरात्रि के समस्त नौ दिनों को बहुत ही पावन माना जाता है। नवरात्रि के पहले दिन घटस्थापना करके नौ दिनों तक देवी दुर्गा की आराधना और व्रत का संकल्प लिया जाता है। कलश या घटस्थापना के लिए मिटटी की वेदी बनाकर उसमे जौ बौया जाता है। इसी वेदी पर कलश स्थापित किया जाता है और कलश के ऊपर लाल कपडे में लपेट कर जटा वाला नारियल रखें। कलश के साथ देवी की प्रतिमा स्थापित करें और  साथ ही ज्योति का दीप रखें। ज्योति प्रज्ज्वलन के साथ ही देवी का पूजन किया जाता है। साथ ही मां दुर्गा सप्तसती का पाठ करें। माता की आरती उतारें और माता को भोग लगाकर सुख शांति व समृद्धि की कामना करें। नित्य पाठ पूजन के समय दीप अखंड जलता रहना चाहिए।


कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार करें शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना


ज्योतिषयों के अनुसार इस वर्ष 29 सितम्बर को प्रतिपदा तिथि के दिन कलश स्थापना, चौकी स्थापना एवं जौ बोने का शुभ मुहूर्त वैसे तो सूर्योदय से ही शुरू हो जाएगा। लेकिन 11 बजे से दोपहर 12:35 बजे तक विशेष मुहूर्त होगा।

नवरात्रि में 9 दिनों तक माता दुर्गा के 9 स्वरूपों की आराधना करने से जीवन में ऋद्धि-सिद्धि, सुख- शांति, मान-सम्मान, यश और समृद्धि की प्राप्ति शीघ्र ही होती है। नवरात्रि के नौ दिन इतने शुभ होते हैं कि इस दौरान कोई भी शुभ कार्य करने के लिए मुहूर्त देखने की जरूरत नहीं पड़ती इसलिए घर से लेकर गाड़ियों तक और घर की इलेक्ट्रॉनिक अप्लायंस से लेकर गहनों तक सबसे ज्यादा इसी दौरान खरीदारी होती है। नवरात्रि के नौ दिनों को बहुत पवित्र माना जाता है। इन दिनों घरों में मांस, मदिरा, प्याज, लहसुन आदि चीज़ों का परहेज़ कर सात्विक भोजन किया जाता है।


शारदीय नवरात्रि 2019 तिथि कैलेंडर (Shardiya Navratri 2019 Date Calendar)

आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार करें शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना



पहला नवरात्र
प्रथमा तिथि
29 सितम्बर 2019
दिन रविवार
दूसरा नवरात्र
द्वितीया तिथि
30 सितम्बर 2019
दिन सोमवार
तीसरा नवरात्र
तृतीया तिथि
1 अक्तूबर 2019
दिन मंगलवार
चौथा नवरात्र
चतुर्थी तिथि
2 अक्तूबर 2019
बुधवार
पांचवां नवरात्र  
पंचमी तिथि
3 अक्तूबर 2019
बृहस्पतिवार
छठा नवरात्र
षष्ठी तिथि
4 अक्तूबर 2019
शुक्रवार
सातवां नवरात्र
सप्तमी तिथि
5 अक्तूबर 2019
शनिवार
आठवां नवरात्र
अष्टमी तिथि
6 अक्तूबर 2019
रविवार
नौवां नवरात्र
नवमी तिथि
7 अक्तूबर 2019
सोमवार
दशहरा
दशमी तिथि
8 अक्तूबर 2019
मंगलवार



सभी पाठकों को शरद नवरात्रि 2019 (Shardiya Navratri 2019) की शुभकामनाएं। हम आशा करते हैं कि देवी दुर्गा की कृपा आप पर सदैव बनी रहे और आपके जीवन में खुशहाली आये।

आने वाला है माँ दुर्गा का त्यौहार करें शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना



















Tags: 2019 mein shardiya navratri kab ha, about navratri festival, date of shardiya navratri 2019, dandiya navratri, first navratri date 2019, food for navratri, importance of navratri, kaise kare navratri ki puja, kalash sthapana vidhi in navratri, last navratri kab hai, muhurat of navratri 2019, navratri and diwali 2019, navratri in october 2019, navratri in september 2019, navratri puja vidhi, shardiya navratri 2019 date and time, shardiya navratri 2019 kalash sthapana time, shardiya navratri 2019 शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना, shardiya navratri माँ दुर्गा aarti, shardiya navratri माँ दुर्गा chalisa, vadodara navratri festival, vidhi of navratri puja in hindi, नवरात्र उत्सव, नवरात्रि कब से शुरू है, नवरात्रि कैलेंडर 2019, नवरात्रि त्यौहार कब है, नवरात्रि थाली, नवरात्रि व्रत, नवरात्री फलाहारी रेसिपीज इन हिंदी, शारदीय नवरात्रि 2019 में कब है











____
99advice.com provides you with all the articles pertaining to Travel, Astrology, Recipes, Mythology, and many more things. We would like to give you an opportunity to post your content on our website. If you want, contact us for the article posting or guest writing, please approach on our "Contact Us page."
Share To:

Sumegha Bhatnagar

Post A Comment:

1 comments so far,Add yours