सभी विवाहित महिलायें पूरे वर्ष सर्वाधिक महत्वपूर्ण त्यौहार करवा चौथ की प्रतीक्षा करती हैं। इस साल यह पर्व 17 अक्टूबर को मनाए जाने की तैयारी है। करवाचौथ पर सुहागिन स्त्रियों को कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी होता है। तो आइये जानते हैं कि क्या हैं वो महत्वपूर्ण बातें----


सुहागिन महिलायें करवाचौथ पर जरुर रखें इन बातों का ध्यान



दोस्तों करवा चौथ का उपवास पंजाब, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में विशेष रूप से बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है। परंतु इस आधुनिक युग में एक दूसरे को देखकर अन्य प्रांत के लोग भी करवा चौथ को धूमधाम से मनाने लगे हैं। सौभाग्यवती महिलाओं के जीवन में करवा चौथ व्रत का काफी महत्व होता है। भारतीय महिलायें करवा चौथ के दिन अपने पति की लंबी उम्र के लिए उपवास रखती हैं।

करवा चौथ के दिन चांद देखने से पहले और उपवास खोलने से पहले इन महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी होता है। माना जाता है कि ऐसा ना करने पर चंद्रमा नाराज हो जाते हैं और महिलाओं को उनकी पूजा का फल नहीं मिलता है।

1. करवा चौथ हिंदू कैलेंडर के अनुसार दिवाली से नौ दिन पहले कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली चतुर्थी को मनाया जाता है।

2. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, इस दिन देवी पार्वती ने भगवान शिव के लिए पहला करवा चौथ का व्रत रखा था।

सुहागिन महिलायें करवाचौथ पर जरुर रखें इन बातों का ध्यान


3. करवा चौथ पर महिलाओं द्वारा निर्जला व्रत रखकर भगवान शिव और देवी पार्वती की पूजा की जाती है।

4. यह व्रत सुबह सूर्योदय से शुरू होता है और शाम को चंद्रमा को देख क़र और जल अर्पण करनें के बाद ही व्रत को खोला जाता है। 

5. ज्यादातर परिवारों में करवा चौथ से एक दिन पहले सास अपनी बहुओं को सरगी जरूर देती है। सरगी में सास अपनी बहू को नए कपड़े, श्रृंगार का सामान, फल, मिठाई आदि देती है।


सुहागिन महिलायें करवाचौथ पर जरुर रखें इन बातों का ध्यान


6. करवा चौथ के दिन महिलायें सूर्योदय से पहले सरगी लेती हैं और सरगी लेने के बाद से ही निर्जला व्रत की शुरुआत होती है।

7. इस दिन मां गौरी की पूजा करने के बाद बहूओं को अपनी सास को बायना देना कभी नहीं भूलना चाहिए।

8. करवा चौथ के दिन घर के बड़े-बुजुर्गों का आर्शीवाद लेना चाहिए। ऐसा करने से उनके परिवार में सुख और सम्रद्धि बनी रहती है।


सुहागिन महिलायें करवाचौथ पर जरुर रखें इन बातों का ध्यान


9. महिलाएं पारंपरिक पहनावे के साथ माँग टीका, मंगल सूत्र, नथ, हाथों में रंग-बिरंगी चूड़ियाँ, पैरों की ऊँगली में बिछुए, हार आदि जेवर पहन कर तैयार होती हैं।

10. सुहागिन महिलायें इस दिन लाल रंग या पीले रंग के कपड़े ही पहनें। क्योंकि इन दोनों रंगों को शुभ माना जाता है। जिन महिलाओं नई शादी हुई है, वे अपने शादी के जोड़े को इस दिन जरूर पहनें।


मित्रों, इस पोस्ट में दीं गयी यह जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और मान्यताओं पर आधारित है। जिसे मैंने सामान्य लोगों की रुचि को ध्यान में रखकर ही प्रस्तुत किया गया है। मैं आशा करती हूँ कि आपको यह जानकरी जरूर पसंद आई होगी।


सुहागिन महिलायें करवाचौथ पर जरुर रखें इन बातों का ध्यान












Tags: importance of karwa chauth in hindi, karwa chauth 2019, important things for karwa chauth, karwa chauth celebration, karwa chauth hindi, karwa chauth important in hindi,karwa chauth important points, karwa chauth important tips in hindi, karwa chauth rules, karwa chauth rules, karwachauth par jarur rakhe in baato ka dhyan






____
99advice.com provides you with all the articles pertaining to Travel, Astrology, Recipes, Mythology, and many more things. We would like to give you an opportunity to post your content on our website. If you want, contact us for the article posting or guest writing, please approach on our "Contact Us page."
Share To:
Next
This is the most recent post.
Previous
Older Post

Sumegha Bhatnagar

Post A Comment:

0 comments so far,add yours