क्या आप जानते है कि दीपावली से पहले धनतेरस (Dhanteras) के पावन अवसर पर किन वस्तूओं के खरीदने से लाभ होता है और किन वस्तूओं को खरीदने से हानि होती है। धनतेरस पर ऐसा क्या खरीदें या ना खरीदें जिस से बनी रहे माँ लक्ष्मी और कुबेर जी की कृपा--


जानिए क्या खरीदें और क्या ना खरीदें- धनतेरस पर




नवरात्री के पश्चात त्यौहारों का शुभागमन हो जाता है। करवाचौथ के बाद दिवाली के त्यौहार का सभी लोग अधीरता से इंतजार करने  लगते हैं। दीपावली त्यौहार की दस्तक धनतेरस की शुरुआत से होती है। दीपावाली एक विशेष पर्व है जो कि 5 दिनों तक मनाया जाता है। इन पांच दिनों में सबसे पहला दिन धनतेरस (Dhanteras), दूसरा दिन नरकचौदस, तीसरा दिन दिवाली, चौथा दिन गोवरधन और पांचवे  दिन भाई दूज मनाया जाता है।


ऐसी मान्यता है कि धनतेरस (Dhanteras) के शुभ दिन पर माँ लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए अपने घर में इस्तेमाल की जाने वाली चीजें खरीदनी चाहियें, जिस से पूरे साल संपन्नता बनी रहती है। इस दिन स्वास्थ्य और सेहत की कामना के लिए भगवान धन्वन्तरी जो चिकित्सा के देवता भी हैं, उनकी पूजा की जाती है।  धनतेरस को अगर खरीदारी का महादिन कहें तो गलत नहीं होगा। जहां एक और इस खास दिन माता लक्ष्मी की पूजा करने के बाद बर्तनों की खरीदारी करना बेहद शुभ माना जाता है। वहीं इस दिन कुछ चीजों की खरीदारी करने से भी बचना चाहिए।


आइए जानते हैं वो कौन सी वस्तुएं हैं जिन्हें धनतेरस पर खरीदने से माँ लक्ष्मी प्रसन्न या अप्रसन्न होती हैं।


धनतेरस पर खरीदें ये वस्तुएं:

वैसे दिवाली का त्यौहार आने के कई दिनों पहले से ही तैयारियां शुरू हो जाती है। घरों की साफ-सफाई, पुताई, साज-सज्जा, दिया और लाइटिंग खरीदना आदि काम बहुत दिन पहले ही कर लिए जाते हैं। लेकिन प्राचीन मान्यताओं के अनुसार, भगवान कुबेर की कृपा और लक्ष्मी माँ को प्रसन्न करने के लिए धनतेरस पर निम्नलिखित वस्तुओं को खरीदना चाहिए


1- धनतेरस के दिन अगर आप सोना-चांदी खरीदने की सामर्थ्य रखते हैं तो जरूर खरीदिए लेकिन अगर आप सोने-चांदी के आभूषण नहीं खरीद सकते हैं तो फिर आप लक्ष्मी जी गणेश जी की चाँदी की प्रतिमा, चाँदी का सिक्का या चाँदी की कोई भी चीज खरीद सकते हैं।

2- इस दिन साबुत धनिया खरीदने की परंपरा है। धनिया खरीदना बहुत शुभ और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। लक्ष्मी पूजा के समय धनिया के बीज लक्ष्मी मां को चढ़ाएं जाते हैं और पूजा के बाद किसी बर्तन या बगीचे में धनिया के बीज बो देते है और कुछ बीज गोमती चक्र के साथ अपनी तिजोरी में रखें जाते हैं।

3- इस दिन मिट्टी के लक्ष्मी एवं गणेश जी की मूर्ति और मिट्टी के दीये भी ख़रीदे जाते है।  

4- धनतेरस पर झाड़ू भी खरीदनी चाहिए। झाड़ू खरीदने का सांकेतिक अर्थ ये है कि आप अपने घर से गरीबी को हटा रहे हैं।

5- इस दिन कॉपर या ब्रॉन्ज के बर्तनों की खरीदारी करना भी शुभ माना जाता है।

6- धनतेरस के दिन अपने व्यवसाय से जुड़ीं कोई चीज भी जरूर खरीदनी चाहिए इससे आपको साल भर व्यवसाय या कार्यक्षेत्र में सफलता मिलती रहेगी।

7- कहा जाता है कि कौड़ी को घर में रखने से उस घर में कभी भी धनाभाव नहीं रहता। इसलिए धनतेरस के दिन कौड़ी खरीद कर घर लाएं और लक्ष्मी पूजा के समय इसे भी शामिल करें। पूजन के बाद इन कौडियों को लाल कपड़े में बांध कर तिजोरी या धन वाले स्थान पर रख दें। वहां कभी धन की कमी नहीं होगी।

8- शंख सुख समृद्धि और शांति का प्रतीक है। इस दिन शंख को घर लाएं और इसे दीपावली पूजन के समय बजाएं। इससे घर में लक्ष्मी का आगमन होगा और घर के अनिष्ट टल जाएंगे।

9- दीपावली के मौके पर नमक का पैकेट भी घर लेकर आएं और इसे दीपावली के दिन इस्तेमाल भी करें। कहते हैं कि नमक खरीद कर लाने से साल भर धनाभाव नहीं होता और सुख समृद्धि घर में ही टिकी रहती है। दीपावली के दिन इसी नमक के पानी का पौंछा घर में लगाने से हमेशा के लिए दरिद्रता दूर हो जाती है।






धनतेरस पर ना ख़रीदे यह वस्तुएं:

धनतेरस पर क्या खरीदना चाहिए, ये तो आपको पता ही होगा, वहीं इस दिन कुछ वस्तुओं की खरीदारी करने से बचना चाहिए। मान्यता के मुताबिक, अगर आप धनतेरस के दिन इन वस्तुओं को खरीदते हैं तो इससे सौभाग्य के बजाए घर में दुर्भाग्य आता है। आइए जानते हैं वो कौन सी वस्तुएं हैं जिन्हें धनतेरस पर खरीदने से मां लक्ष्मी अप्रसन्न हो जाती हैं


1- धनतेरस के दिन लोहे की बनी हुईं वस्तुएं जैसे नुकीला चाकू, कैंची और लोहे के बर्तन नहीं खरीदना चाहिए। अगर आपको लोहे के बर्तन खरीदने हैं तो धनतेरस से एक दिन पहले ही बर्तन खरीद लें। इसके साथ ही अगर आप वाहन खरीद रहे हैं तो मान्यताओं के मुताबिक राहु काल का ध्यान रखना चाहिये। अगर आपको धनतेरस के दिन कार घर लानी है तो उसका भुगतान एक दिन पहले कर लें, धनतेरस के दिन नहीं।


2- धनतेरस के अवसर पर काले रंग की वस्तुओं और कपड़ों को घर लाने से बचना चाहिए। काला रंग हमेशा से दुर्भाग्य का प्रतीक माना गया है जबकि धनतेरस बहुत शुभ दिन माना जाता है इसलिए धनतेरस पर काले रंग की चीजें खरीदने से बचना चाहिए।


3- धनतेरस पर बर्तन खरीदने की परंपरा काफी समय से चली आ रही है। स्टील भी लोहा का ही दूसरा रूप है इसलिए कहा जाता है कि स्टील के बर्तन भी धनतेरस के दिन नहीं खरीदने चाहिए। एल्युमीनियम के बर्तन खरीदने को भी अशुभ माना जाता है क्योंकि इसका संबंध भी राहु से होता है। यही कारण है कि एल्युमिनियम का प्रयोग पूजा-पाठ में नहीं किया जाता है।


4- धनतेरस के दिन सबसे ज्यादा सोने की ही खरीदारी होती है पर एक बात को ध्यान में रखना जरूरी है कि इस दिन भूल कर भी नकली आभूषण, सिक्के नहीं खरीदने चाहिए।


5- धनतेरस के दिन सरसों तेल, घी या रिफाइंड तेल इत्यादि लाने के लिए मना किया जाता है। धनतेरस पर दीये जलाने के लिए भी तेल और घी की जरूरत पड़ती है इसलिए ये चीजें पहले से ही खरीद कर रख लेनी चाहियें।


6- क्योकि कांच का संबंध राहु से माना जाता है इसलिए धनतेरस के अवसर पर कांच की वस्तुएं गलती से भी नहीं खरीदना चाहिए वरना माँ लक्ष्मी नाराज हो जाती है। इस दिन कांच की चीजों का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए।


7- धनतेरस के एक दिन पहले उपहार खरीदना और देना शुभ माना जाता है लेकिन धनतेरस के दिन नहीं। इसके पीछे तर्क ये दिया जाता है कि किसी को उपहार देने का मतलब है कि आप अपने घर से रुपए खर्च कर रहे हैं यानी धनतेरस के दिन अपने घर से लक्ष्मी को दूसरी जगह भेजना अशुभ माना जाता है।



























Tags:- 2018 me dhanteras kab hai, dhanteras 2018 and diwali, dhanteras 2018 date and time,dhanteras 2018 hindi, dhanteras 2018 panchang, dhanteras 2018 puja vidhi, dhanteras 2018 timings, dhanteras festival 2018, dhanteras shubh muhurat 2018, what to buy on dhanteras 2018, when is dhanteras 2018, जानिए क्या खरीदें और क्या ना खरीदें- धनतेरस पर निबंध, धनतेरस ki puja kaise kare, धनतेरस wikipedia, धनतेरस कथा, धनतेरस कब की है, धनतेरस का महत्व, धनतेरस क्यों मनाते है, धनतेरस पर क्या करे, धनतेरस व दीपावली












____
99advice.com provides you with all the articles pertaining to Travel, Astrology, Recipes, Mythology, and many more things. We would like to give you an opportunity to post your content on our website. If you want, contact us for the article posting or guest writing, please approach on our "Contact Us page."
Share To:

Sumegha Bhatnagar

Post A Comment:

0 comments so far,add yours